To read in English - Click here                              To read in Gujarati Click here


ग्रेनस एप, ग्रेनस ऑर्गेनाइज़ेशन का एक आधिकारिक ऐप हे जो SHOUT -BY -THUMB के सरल सिद्धांत पर काम कर रहा है। इस मॉड्यूल का मुख्य उदेश्य महिलाओको, समाजके लोगो को और सरकारकी वुमन हेल्पलाइन टीम को एक दूसरे के साथ इंटीग्रेट करके सलामती व्यवस्थाको मजबूत बनाने  का हे.

ये ऐप निचे मुजब सिंपल दो स्टेप से कार्य करता हे.

  1. अगर कोई महिला को सार्वजनिक जगह पर असुरक्षित महसूस होता हे, तो वह ग्रेनस ऐप में हेल्प का बटन एक्टिवेट करेगी
  2. एक बार जब उसने हेल्प का बटन एक्टिवेट कर लिया, तो उसके आस पास के करीब 5 लोग जो की ग्रेनस के वुमन सेफ्टी ग्रुप में वॉलंटियर हे उन्हें उनके ग्रेनस ऐप में मेसेज मिलेगा। उन्हें ग्रैनस-गूगल इंटीग्रेटेड मेप पर उस महिला की वास्तविक हिलचाल के साथ मेसेज प्राप्त होगा।

इसे अधिक समझने के लिए कृपया आगे पढ़े.

A : महिला सुरक्षा के लिए ग्रैनस ऐप में कैसे शामिल हों


स्टेप 1: Google play store से GRANNUS एप डाउनलोड करें

स्टेप 2: आपको महिलाओं की सुरक्षा के लिए स्वयंसेवक के रूप में शामिल होने के लिए कहा जाएगा।

स्टेप 3: यदि आप शामिल होना चाहते हैं, तो हाँ पर क्लिक करें या अन्यथा आप नॉट नाउ पर क्लिक कर सकते हैं। (हम पुरुषों और महिलाओं दोनों को शामिल होने का अनुरोध करते हैं। आप बाद में सेटिंग भी बदल सकते हैं)।

 

B: एक महिला मदद के लिए कैसे पूछ सकती है


स्टेप 1: Google Play store से GRANNUS ऐप डाउनलोड करें।

स्टेप 2: आपको ग्रैनस ऐप में इमर्जन्सी कॉन्टेक्ट लिस्ट बनाना होगा। आप इस लिस्ट में अपने परिवार के सदस्यों और अपने करीबी दोस्तों को भी सेट कर सकते हैं। कम से कम एक कॉन्टेक्ट आपको एड करना है।

स्टेप 3: अब जब भी आप असुरक्षित महसूस करते हो, तो आपको ग्रैनस ऐप में वुमन सेफ्टी बटन पर क्लिक करना होगा और इसमें हेल्प एक्टिवेट करना होगा।

हेल्प  बटन को एक्टिवेट करने के बाद, तीन क्रियाएं एक साथ होती हैं;

  1. आपके 500 मीटर से 1 किमी के करीब 5 लोगो को आपकी रिक्वेस्ट चली जाएगी। वे आपके वर्तमान स्थान के साथ-साथ ग्रैनस-गूगल इंटीग्रेटेड मेप पर आपके वास्तविक हिलचाल को भी देख पाएगे।
  2. आपके इमर्जन्सी कॉन्टेक्ट लिस्ट को भी वैसा ही मेसेज चला जाएगा।
  3. आपकी इच्छा के अनुसार महिला हेल्पलाइन या पुलिस अधिकारी को एक कॉल भी लग जाएगा।
  4. आपके आस-पास की आवाज़ को रिकॉर्ड भी किया जाएगा जब तक आप I AM SAFE बटन पर क्लिक न करें।

प्रत्येक व्यक्ति, जिसको आपका मेसेज मिला है, वह ग्रेनस -गूगल इंटीग्रेटेड मेप पर आपकी वास्तविक हिलचाल को 12 घंटे तक या फिर जब तक आप  "I AM SAFE" बटन पर क्लिक न करे तब तक देख पाएगे।  इसलिए एक बार जब आप सुरक्षित हों, तो I AM SAFE क्लिक करना न भूलें।

यह भी हो सकता है कि जिस ग्रेनस मेम्बरने को आपकी हेल्प रिक्वेस्ट मिली हे, उसने आपके स्थान तथा मेसेज को पुलिस अधिकारि को फॉरवर्ड कर दिया हो और फिर वह पुलिस अधिकारी भी आपका रियल टाइम लोकेशन देख पाएगे.

 

C: आप एक महिला की मदद कैसे कर सकते हैं


यदि आप ग्रेनस के वुमन सेफ्टी ग्रुप में शामिल हो गए हैं और यदि आपके आस-पास की कोई महिला ने सहायता बटन एक्टिवेट किया है, तो हो सकता है कि शायद आपको भी उसका मेसेज मिले।

आपको अपने ऐप के इनबॉक्स में संदेश प्राप्त होगा।

आपके पास चार विकल्प होंगे।

A: SURE : यदि आप SURE पर क्लिक करते हैं, तो इसका मतलब है कि आप उसकी मदद करने जा रहे हैं। उस महिला को आपकी स्वीकृति के लिए भी अधिसूचित किया जाएगा।

B: GET LOCATION : एक बार जब आप GET LOCATION पर  क्लिक करते हैं, तो आप गूगल मेप पर उसका वास्तविक लोकेशन देख सकते हैं। आप मेप पर उस महिला की वास्तविक हिलचाल यानिकि वह महिला किस रूट से कहा जा रही हे वह भी देख सकते हैं। उसे अधिसूचित किया जाएगा कि आपने उसका लोकेशन चेक किया है।

C : FEELING SORRY : अगर आप उस समय उसकी मदद नहीं करेंगे, तो चिंता न करें। तत्काल, वह रिक्वेस्ट दूसरे व्यक्ति, जो की उस महिला के आसपास में ही हे उनको भेज दिया जाएगा।

D: Share via Whatsapp: यदि महिला सुरक्षा टीम या पुलिस अधिकारी उसके स्थान की मांग कर रहे हैं, तो आप व्हाट्सएप के माध्यम से उस महिला का लोकेशन साझा कर शकते हे। जब तक वह "मैं सुरक्षित हूं" बटन पर क्लिक नहीं करती तब तक वह पोलिस अधिकारी भी उस महिला का रियाल टाइम लोकेशन देख पाएगे।


अगर आप उस महिला की मदद करना चाहते हो तो सबसे पहले आपको वुमन हेल्पलाइन टीम 181 या 112 को फोन करके बताना होगा तथा आपके आस-पास के अन्य लोगों की हेल्प लेकर उस लोकेशन पर जाना चाहिए और उस महिला मदद करनी चाहिए। आपकी ज़िम्मेदारी सिर्फ उस महिला की मदद करने की है। अपराधी को पकड़ने के लिए क्या करना है यह महिला हेल्पलाइन टीम की ज़िम्मेदारी है।

एक अच्छे नागरिक के रूप में, हम अपराधी को पकड़के महिला हेल्पलाइन टीम या पुलिस अधिकारी की मदद कर सकते हैं। लेकिन अगर आपको यह आपके लिए असुरक्षित लगता है, तो अपराधी को पकड़ो मत और महिला हेल्पलाइन टीम को सारी जानकारी दे दो।

हम मानते हे की समाज के प्रत्येक पुरुष और प्रत्येक महिला को इस एप से शामिल होना चाहिए। यदि आप मदद के लिए नहीं जा पा रहे हैं, तो भी ठीक है, लेकिन कमसे कम आप अन्य लोगो को तथा महिला सुरक्षा टीम 181 को जानकारी भी दे शकते हो.

ग्रेनस ऑर्गेनाइज़ेशन के साथ वॉलंटियर के रूप में शामिल होने से पहले कुछ निर्देश हैं जिन्हें महिला की मदद करते समय पालन करना होगा। कृपया नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें।

Instruction to ask help or to provide help to women in distress

कृपया ध्यान दें कि ग्रैनस हमारे देश के लोगों को विभिन्न प्रकार की आपात स्थिति में एक दूसरे की मदद करने के लिए सिर्फ एक डिजिटलाइज़्ड सामाजिक मंच प्रदान कर रहा है। इस मंच का उपयोग कैसे करें ये आपके समझने के स्तर पर निर्भर करता है।

हम दोबारा पुनरावृत्त कर रहे हैं, अगर कोई महिला जोर से आवाज़ लगा के हेल्प के लिए मदद मांगती हे और आप मदद करने जाते हो तो जो भी परिस्थिती पैदा हो शक्ति हे ठीक वैसी ही परिस्थिति ग्रेनस एप से मदद मांगने के बाद भी पैदा हो शक्ति हे. तो इस एप को आप अपनी अच्छी समज के साथ उपयोग करे।

ग्रैनस ऑर्गेनाइज़ेशन किसी भी परिणाम के लिए ज़िम्मेदार नहीं है।

यदि आप सामाजिक तरीके से ग्रैनस ऐप का उपयोग कर रहे हैं, तो यह हमारे समाज की महिलाओं की सुरक्षा संबंधी समस्या को हल कर सकता है।

जय हिंद.

For more information

सार्वजनिक स्थानों पर महिलाओं की मदद करने के लिए 5 लाख निडर और बहादुर लोगो की आवश्यकता हे

महिला सुरक्षा के लिए SHOUT BY THUMB फीचर क्या हे? ओर इसे कैसे उपयोग करे?